राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | एक नज़र में

राहु 25.09.2020 से आपके तीसरे भाव से दूसरे भाव में गोचर करेंगे।केतु आपके भाग्य स्थान से अष्टम में गोचर करेंगे।

 

राहु का गोचर आपके लिए अच्छे परिणाम लेकर नही आएगा। साथ ही केतु भी गोचरवश अच्छा नही रहेगा।राहु केतु के इस पूरे गोचर के दौरान शनि भी मेष राशि वालों के दसम भाव में विचरण करेंगे जो की कैरियर और वितिय स्थिति में बाधा कारक होगा। लेकिन ज़्यादातर समय गुरु आपके लिए सही स्थिति में रहेंगे।

 

25-09-2020 से 20-11-2020 तक गुरु आपके नवम यानी भाग्य स्थान में रहेंगे।इस दौरान भाग्य आपका साथ देगा।

 

गुरु 20-11-2020 से 05-04-2021 तक और फिर 14-09-2021 से 20-11-21 तक आपके दसम भाव में रहने से कुछ बाधा उत्पन्न करेंगे।

 

 

आपकी वित्तीय स्थिति 05-04-2021 से 14-09-2021 के बीच तथा फिर 20-11-2021 से 14-04-2022 के बीच बहुत ही अच्छी रहेगी।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | स्वास्थ्य, शिक्षा, पारिवारिक जीवन, नौकरी, व्यापार ,पैसा और ज्योतिषिय उपाय

पारिवारिक जीवन

केतु आपके आठवें घर में और शनि दसवें घर में आपको कुछ तनाव दे सकता है जिसकी वजह से आपको नींद ना आने की दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।लेकिन गुरु आपकी रक्षा केरेंगे और जैसे ही कोई स्वास्थ्य की परेशानी होगी आपको तुरंत इलाज मिलने से ठीक भी हो जाएगी।

 

आपके परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य ठीक रहेगा। आपको राहु केतु के गोचर के दौरान पर्याप्त आराम करना चाहिए और काम का ज़्यादा दबाव ना लें।आप अपने पाचन तंत्र का ध्यान रखें और फल व सब्ज़ियाँ अधिक खायें।

 

शनि महाराज आपसे कड़ी मेहनत करवायेंगे।आपको परिवार के साथ समय बिताने का कम अवसर मिलेगा।

 

दूसरे भाव में राहु आपसे ना चाहते हुए भी झगड़े और बहस करवाएगा। बोलते वक्त अपनी जुबान पर काबू रखें।

 

इस पूरे राहु केतु के गोचर में गुरु आपके नवम , दसम और एकादस तीनो भावों से होकर गुजरेंगे। जिसकी वजह से आपको अच्छा सहयोग मिलेगा और पारिवारिक समस्याएं नियंत्रण में रहेंगी।बच्चे आपकी बात का सम्मान रखेंगे।

 

आपके द्वादस भाव को गोचर का शनि देख रहा है इस वजह से रिश्तों में थोड़ा बहुत तनाव दिखाई दे रहा है।आपकी शादी होने के योग हैं।जो लोग विवाहित हैं उनका दांपत्य जीवन अच्छा रहेगा। घर में संतान की किलकारी गूंज सकती है।

 

आप दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के बीच थोड़ी सावधानी बरतें ।आपके दसम भाव में शनि और गुरु का मिलन रिश्तों में दरार और दुःखद घटनाएं पैदा कर सकता है।अप्रैल 2021 से अच्छा समय है।

 

आपके घर में शुभ कार्यों होंगे।जिन लोगों ने आपसे बात बंद कर रखी थी वे पुनः आपसे बात करेंगे ।

 

 

जून 2021 से अप्रैल 2022 के बीच आपके परिवार को समाज में अच्छा नाम और प्रसिद्धि मिलेगी।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | विद्यार्थियों के लिए

विद्यार्थियों के लिए समय अच्छा है। पढ़ाई आपकी रुचि पैदा होगी। आप अपने लक्ष्य और उद्देश्य के प्रति समर्पित रहेंगे। आपका परीक्षाफल अच्छा रहेगा।वर्ष 2021 में अच्छे कॉलेजों में दाखिला मिल जाएगा । आपके नए दोस्त मिलेंगे। 2021 के मई माह से 2022 के अप्रैल माह के बीच आपका भाग्य अच्छा फल देगा।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | व्यापार और नौकरी

दूसरे भाव में राहु की उपस्थिति आपके खर्चे बढ़ा देगी।गोचर में दसम भाव का शनि बिना बात के खर्च पैदा करेगा। लेकिन बृहस्पति की अच्छी स्थिति के कारण आप पैसे बचा पाने में सफल हो जाएँगे।खर्चे बढ़ेंगे तो साथ ही धन का पैसा भी आएगा।

 

आप नया घर ख़रीदना चाहते हैं तो ख़रीद कर उसमें रह सकते हैं। आप क़र्ज़ों को चुकाने में सफल हो पायेंगे। राहु केतु का गोचर अपना ख़राब प्रभाव दिसंबर 2020 से अप्रैल 2021 के बीच अधिक दिखाएगा। इस समय के दौरान संपती खरीदने या नए घर में शिफ़्ट करने से बचें।मई 2021 से अप्रैल 2022 के बीच का समय आपके लिए खुशनुमा रहेगा।

 

दूसरे भाव में स्थित राहु आपकी तरक्की को लेकर कोई ख़ास समस्या पैदा नहीं करेगा।हाँ, आठवें भाव का केतु आप पर काम का दबाव बढ़ाएगा। गुरु की अच्छी स्थिति होने की वजह से आपके करियर में वृद्धि दिखाई दे रही है ।काम का दबाव बढ़ने की वजह से नींद और ऊर्जा के स्तर में कमी होगी जो आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करेगा। आप अपने स्वास्थ्य का अच्छी तरह से ध्यान रखें।

 

 

दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के बीच कार्य स्थल पर राजनीति होगी जिसकी वजह से इस समय में आपकी पदोन्नति में रुकावट हो सकती है। अप्रैल 2021 के बाद आप विदेश जा सकते हैं।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | यात्रा और क़ानूनी मामले

दूसरे भाव में राहु , दसवें भाव में शनि और आठवें भाव में केतु आपको अदालती मामलों को लेकर मानसिक तनाव और निराशा देगा।गुरु आपकी सहायता करेंगे और आप बाधाएं पार कर पाएँगे। दिसंबर 2020 से अप्रैल 2021 के बीच अदालत मामलों में सावधान रहने की आवश्यकता है।

 

लंबी दूरी की यात्रा लाभदायक साबित होंगी। राहु केतु का गोचर यात्रा में अकेलापन महसूस कराएगा।

यह भी पढें : > कुंडली खोल देगी पिछले जन्म का राज

20-11-2020 से 05-04-2021 के बीच सावधान रहें क्योंकि केतु का बुरा असर इस दौरान देखने को मिल सकता है। हनुमान चालीसा का नित्य पाठ करें।

 

मई 2021 के बाद से आप की अच्छी प्रगति होगी। नई कार खरीदने के भी योग हैं।

 

 

 

अगर मैं कहूँ तो राहु केतु का यह गोचर मेष राशि वालों के लिए मिश्रित फल देगा।राहु केतु गोचर के अगले 19 महीने आपके लिए कैसे होंगे यह विभिन्न समय पर विभिन्न ग्रहों की स्थिति को देखते हुए पाँच भागों में बाँटा गया है जिसे आप आगे पढ़ सकते हैं।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | अक्टूबर , 2020 से 24,नवंबर, 2020 तक, गोल्डन टाइम

दो महीने आपका भाग्य साथ देगा।स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। जीवनसाथी और परिवार का सहयोग मिलेगा ।जिस भी काम में हाथ डालेंगे उसमें सफलता मिलेगी।

 

धन लाभ होगा। आप प्यार में पड़ जाएँगे।दांपत्य जीवन का आनंद मिलेगा। संतान हो सकती है।घर में शुभ कार्य होने से ख़ुशी मिलेगी।

 

 

वेतन में वृद्धि, नई नौकरी और व्यापार से जुड़े लोगों को अच्छा लाभ मिल सकता है।घर, कार या सोना ख़रीदने के योग हैं।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | 25,नवंबर, 2020 से 6, अप्रैल, 2021 तक, नुकसान दे सकता है।

लगभग चार महीनो में राहु केतु की पहले से ही ख़राब स्थिति गुरु का दसवाँ गोचर आपको अचानक नुकसान दे सकता है। गुरु और शनि की युति स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं पैदा कर सकती है।बीमारी और यात्रा पर खर्च बढ़ सकता है।आप भावूक हो सकते हैं।

 

आपके कार्यालय में राजनीति बढ़ेगी। व्यापारी लोगों को साझेदार परेशान कर सकते हैं।

 

इस अवधि में यात्रा से बचें।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | 7, अप्रैल, 2021 से 15, सितंबर, 2021 तक, अच्छा समय

अभी तक की परेशानियों से धीरे धीरे बाहर आयेंगे। जीवनसाथी और परिवार का साथ मिलेगा। स्वास्थ्य का सही इलाज हो जाएगा। शुभ कार्यों का आयोजन होगा।

 

आपको पहचान मिलेगी।क़र्ज़ लेना चाह रहे हैं तो आसानी से मिल जाएगा। यात्रा के मिले जुले परिणाम होंगे।सम्पत्ति में पैसा निवेश ना करें।

 

इस दौरान सट्टे बाज़ी से बचें।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | 16, सितंबर, 2021 से 24,नवंबर, 2021 तक, बेकार समय रहेगा

इन लगभग दो महीनों में आपको फिर से समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि गुरु वक्री हो कर पुनः आपके 10वें भाव में वापस चले जाएँगे। आपको बिना बात का डर सताएगा और आप चिंता में पड़ जाएँगे। साथ ही इस अवधि में परिवार का सहयोग नहीं मिल पाएगा और ससुराल वालों से मनमुटाव होने की आशंका भी बनेगी।

 

 

काम का दबाव और तनाव रहेगा। आपके अपमानित होने की भी सम्भावना हैं। आप नौकरी भी गंवा सकते हैं।व्यापारी लोगों का भी एक बुरा दौर रहेगा।यात्रा से बचें। आपकी वित्तीय स्थिति खराब हो सकती है।आपके साथ पैसों की धोखा धड़ी भी हो सकती है।महत्वपूर्ण निर्णय बिना सोचे ना लें।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | 24, नवंबर, 2021 से 14 अप्रैल, 2022 तक, काफ़ी अच्छा समय

राहु केतु का गोचर अब अपने अंतिम दौर में है। आपके लिए ख़ुशियों से भरा समय है क्योंकि आप सभी बाधाओं से बाहर आ जाएँगे। गुरु भी आपके 11वें भाव में आ चुके होंग़े। जिसकी वजह से राहु और केतु के दुष्प्रभाव कम हो जाएँगे।

 

 

अब आप तनाव मुक्त हो चुके होंगे।घर में शुभ कार्य आपको ख़ुशी देंगे।नई नौकरी मिलेगी, अच्छा वेतन और आर्थिक स्थिति में बहुत सुधार होगा। क़र्ज़ चुका पाएँगे।घर ख़रीद सकते हैं।

राहु केतु गोचर का फल 2020-2021-2022, मेष राशि | उपाय और सावधानियाँ

·         बूढ़े और विकलांग लोगों की सहायता करें।

 

·         मंगलवार और शनिवार को मांस खाने से परहेज़ करें।

 

·         किसी भी राहु , गुरु और शनि के स्थान पर जाकर पूजा अर्चना करें।

 

·         अमावस्या को पितरों से प्रार्थना करें।

 

·         विष्णु सहस्रनाम और सुदर्शन महामंत्र का नित्य जाप करें।

 

·         एकादशी का व्रत करें।

 

·         आर्थिक स्थिति के लिए तिरुपति बालाजी भगवान प्रार्थना करें।

 

 

7 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.